एनीमिया से बचाव कैसे करें


 

       एनीमिया आयरन की
कमी से होने वाली एक ऐसी
बीमारी है, जिसमें हमारे शरीर
में हीमोग्लोबिन की मात्रा घट जाती
है। हीमोग्लोबिन की कमी से शरीर की
कोशिकाओं में ऑक्सीजन की कमी होने
लगती है।

A–क्या है वजह

1-स्त्रियां खानपान
को लेकर लापरवाह होती हैं।
इससे उनके शरीर में पोषक तत्वों,
खासतौर से आयरन और फॉलिक एसिड
की कमी हो जाती है और वे एनीमिया की शिकार
हो जाती हैं।

2-चोट लगने या
किसी सर्जरी के कारण
शरीर से बहुत ज्यादा रक्तस्राव
या पीरियड के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग
हो तब भी यह समस्या हो सकती है।

3-गर्भावस्था में अगर
आयरन और फॉलिक एसिड
का पर्याप्त मात्रा में सेवन न किया
जाए तो स्त्रियों में एनीमिया होने का
खतरा खासतौर से बढ़ जाता है, क्योंकि
गर्भस्थ शिशु भी मां के शरीर से काफी मात्रा में
आयरन और फॉलिक एसिड ग्रहण कर रहा होता है।

B–लक्षण

1-सिरदर्द, थकान और
अक्सर नींद आना। चक्कर
आना और आंखों के आगे अंधेरा
छाना, हृदय गति का असामान्य होना,
बेहोशी का दौरा।

2-नाखूनों की रंगत
सफेद पड़ना, आंखों के नीचे
काले घेरे पड़ना।

C–बचाव

1-संतुलित और पौष्टिक आहार लें।

2-हरी पत्तेदार सब्जियों,
फलों और अन्य खाद्य पदार्र्थो
जैसे चुकंदर, गाजर, सेब, अनार,
खजूर, मूंगफली, गुड़ और सूखे मेवों
का सेवन करें।

3-शरीर में फॉलिक एसिड
की मात्रा बढ़ाने के लिए कुटू का
आटा, ओटमील (जौ), गोभी, मशरूम
और ब्रोकली खाएं।

4-कैल्शियम और
विटामिन सी के लिए दूध,
दही, पनीर, चीज के अलावा
संतरा, नींबू, मौसमी, चकोतरा और
अंगूर जैसे बिटामिन सी युक्त फलों का
आवश्यक रूप से सेवन करें।

6-उम्र के हिसाब से उसी प्रकार
डाइट भी जरूरी है
उम्र के इस दौर में शरीर
में कई बदलाव आते हैं। ये बदलाव
न केवल शारीरिक, बल्कि भावनात्मक
एवं मानसिक भी होते हैं। इस लिहाज से यह
जरूरी है कि आहार में पर्याप्त पोषक तत्व मौजूद
हों। यहां दी गई कुछ बातों का ध्यान रखकर फिट
और स्वस्थ रहा जा सकता है।

1-अपने दिन की
शुरुआत अच्छे ब्रेकफास्ट
से करना पोषण संबंधी समस्याओं
को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है।
जब जरूरी पोषक तत्व दिन की शुरुआत
में ही शरीर को मिल जाएं तो चीजें सारे दिन
सामान्य रह पाती हैं। ब्रेकफास्ट में भरवां रोटी
या दलिया, ओट्स आदि होना जरूरी है। साथ ही
एक गिलास बनाना, मैंगो या मिल्क शेक।

2-15-20 वर्ष की आयु
के बीच पर्याप्त कैलोरी जरूरी
डाइट से मिलती है। जरूरत से कम
या जरूरत से ज्यादा भोजन, दोनों ही
स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं। हालांकि
आमतौर पर यह माना जाता है कि अल्प पोषण
तब होता है, जब पर्याप्त भोजन नहीं मिलता, लेकिन
हैरत की बात है कि अल्पपोषण तब भी होता है जब भोजन
काफी मात्रा में लिया जाए।

3-कैंटीन या कैफेटेरिया
में सप्ताह में एक-दो बार से अधिक
भोजन न करें। कैंटीन में आमतौर पर
उपलब्ध चिप्स या समोसे के बजाय इडली,
राजमा-चावल, कढ़ी-चावल का चयन ज्यादा
ठीक होगा। बेहतर होगा कि कोई एक फल खाएं।
मसलन आम, सेब, संतरा या केला।

4-घर से खाना ले जाना
इस उम्र को गंवारा नहीं। ऐसे
में टिफिन/लंच पैक को अधिक
आकर्षक बनाना जरूरी है। भरवां
पराठे ज्यादातर बच्चों को उबाऊ लगते
हैं, लेकिन उसी परांठे को अगर काठी रोल
स्टाइल में तैयार किया जाए तो हर कोई खाने
को तैयार हो जाएगा।

5-परांठे अलग-अलग
अनाज के आटों को मिलाकर
बनाए जा सकते हैं। परांठों में विभिन्न
प्रकार का मसाला, पनीर, स्प्राउट्स, काले
चने या राजमा की स्टफिंग करके उन्हें अधिक
पौष्टिक और लाजवाब बनाया जा सकता है। इसी
तरह भुनी हुई शकरकंद, मक्का या सिंके हुए आलुओं
से स्नैक्स तैयार किए जा सकते हैं।

6-इस उम्र में कैल्शियम
और आयरन की कमी आम
बात है। दूध की जगह अन्य पेय
पदार्र्थो के सेवन से आहार में कैल्शियम
की कमी होना लाजिमी है। इस आयु में हड्डियों
का विकास होता है। हड्डियों के विकास के लिए
आहार में कम से कम 1200 मिग्रा कैल्शियम
जरूरी है। इसलिए मिल्क शेक, जूस, लस्सी,
फलों का रस आदि ले सकते हैं।

7-आजकल हाई ब्लडप्रेशर
और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याएं
अधिक देखने को मिलती हैं। ब्लडप्रेशर
बढ़ने का मुख्य कारण भोजन में प्रोसेस्ड
फूड का होना है। प्राकृतिक रूप से मिलने
वाले पदार्र्थो में सोडियम का स्तर प्रोसेस्ड
फूड की अपेक्षा तीन से चार गुना अधिक
होता है। किशोरों में बढे़ हुए कोलेस्ट्रॉल
का कारण अधिक सैचुरेटेड और ट्रांस
फैट वाले आहार के साथ-साथ कम
शारीरिक गतिविधि करना है। ऐसे में
साल्टेड स्नैक्स, पैकेट बंद फूड से जहां
तक हो सके, दूर रहना जरूरी है।

 

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s