रात की नींद दिमाग के लिए अधिक उपयोगी है


 

            वाशिगटन- अक्सर
ही कहा जाता है कि हमें अपनी
नींद जरूर पूरी करनी चाहिए। एक
अध्ययन से पता चला है कि रात में न
सोना हमारे दिमाग के लिए अधिक हानि-
कारक हो सकता है। शोधकर्ताओं ने अनिद्रा
से पीड़ित लोगों और रात में भरपूर नींद
लेने वाले लोगों के मस्तिष्क के काम में
काफी अंतर पाया।सूत्रों के मुताबिक, यूनि-
वर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, सैन डिएगो के
शोधकर्ताओं के मुताबिक स्मृति परीक्षण
के दौरान कम नींद लेने वाले लोगों को
ध्यान केंद्रित करने में समस्या हुई।

                  अन्य विशेषज्ञों का
कहना है कि असल में मस्तिष्क
के तारों पर नींद का प्रभाव हो सकता
है। स्लीप जर्नल में प्रकाशित अध्ययन
से पता चलता है कि अनिद्रा से पीड़ित लोगों
के न सिर्फ रात में सोने में परेशानी होती है बल्कि
देर से प्रतिक्रिया देने और स्मृति में कमी के रूप
में इसका प्रभाव दिन में भी दिखता है। शोध में
अनिद्रा से पीड़ित 25 लोगों की तुलना
इतने ही अच्छी नींद लेने वाले लोगों
के साथ की गई। स्मृति परीक्षण के
दौरान उनके मस्तिष्क के एमआरआई
स्कैन किए गए। परीक्षण के दौरान अनिद्रा
पीड़ित लोगों का दिमाग महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सही
तरह से काम नहीं कर रहा है।