सेल फोन कहीं हमारी नीद के लिए हानिकारक है


                  जैसे-जैसे मोबाइल
हमारी जिंदगी का अटूट हिस्सा
बनता जा रहा है, वैसे-वैसे उसे
लेकर स्वास्थ्य संबधी चिंताएं भी
बढ़ती जा रही हैं। इस पर आए दिन
नित नई रिसर्च भी हो रही हैं। पिछले
दिनों स्वीडन में हुई एक रिसर्च से पता
चला कि सोने के पहले मोबाइल फोन के
इस्तेमाल से स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव
पड़ता है।

           मोबाइल हैंडसेट से
निकलने वाले रेडिएशन के
कारण व्यक्ति अनिद्रा व सिरदर्द
की शिकायत से तो त्रस्त रहता ही
है। साथ ही उसे मीठी नींद से भी
वंचित रहना पड़ता है। इससे
उसकी एकाग्रता में भी कमी
आती है व व्यक्ति डिप्रेशन का
शिकार भी हो सकता है। इस सबका
उसके व्यक्तित्व पर भी दुष्प्रभाव पड़ता है।

             व्यक्ति स्वस्थ रहे,
इसके लिए गहरी नींद बहुत
जरूरी है, क्योंकि इसी दौरान
हमारा शरीर दिनभर में क्षतिग्रस्त
हुई कोशिकाओं की मरमत करता
है और इसी दौरान कोशिकाएं पुनर्जीवित
भी होती हैं। मोबाइल नींद में बाधा पहुंचाकर
इन सारे रास्तों को बंद कर देता है, जो युवा
देर रात तक मोबाइल पर बात करते रहते हैं,
उनके लिए यह खबर खतरे की घंटी है।